वन मंत्री सुबोध उनियाल ने टीएचडीसी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिस भी प्रोजेक्ट पर काम किया जाता है, उसमें स्थानीय लोगों को प्राथमिकता पर रोजगार से जोड़ना सुनिश्चित करें

0
160

वन मंत्री सुबोध उनियाल ने टीएचडीसी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिस भी प्रोजेक्ट पर काम किया जाता है, उसमें स्थानीय लोगों को प्राथमिकता पर रोजगार से जोड़ना सुनिश्चित करें

प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल द्वारा आज टीएचडीसी तृप्ति गेस्ट हाउस कोटेश्वर में कोटेश्वर बांध परियोजना से प्रभावित लोगों की समस्याओं को सुना गया।

बैठक में टीएचडीसी, पुनर्वास एवं जिला प्रशासन के अधिकारी मौजूद रहे।
इस मौके पर वन मंत्री सुबोध उनियाल ने टीएचडीसी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिस भी प्रोजेक्ट पर काम किया जाता है, उसमें स्थानीय लोगों को प्राथमिकता पर रोजगार से जोड़ना सुनिश्चित करें। कहा कि महिला समूह को भी जागरूक कर योजनाओं से जोड़कर मजबूत एवं आत्मनिर्भर बनायें। कहा कि कोटेश्वर डैम निर्माण में स्थानीय लोगों द्वारा पूरा सहयोग दिया गया है, जिनकी जमीन पर परियोजना बनी है, उन्हें लाभ देने से वंचित न करें, क्षेत्र की आजीविका एवं अन्य छोटी-छोटी समस्याओं का समाधान स्थानीय स्तर पर ही करना सुनिश्चित करें। कहा कि सभी लोकसेवक एवं जनसेवक अपने-अपने दायित्वों को समझते हुए जनहित में बेहत्तर कार्य करना सुनिश्चित करें। मा. मंत्री जी ने टीएचडीसी के अधिकारियों को निर्देशित किया कि सीएसआर मद के तहत ग्राम वाइज रोस्टर बनाकर बडे़ एवं टिकाउ काम करना सुनिश्चित करें। मा. मंत्री जी ने कहा कि लोगों कोj स्वरोजगार से जोड़ने हेतु कोटेश्वर में बोट संचालित करें, इससे क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा भी मिलेगा, जिस पर मुख्य विकास अधिकारी ने बताया कि इसमें सर्वे का काम चल रहा है।
मा. मंत्री जी ने स्थानीय युवाओं को क्षेत्र में एनजीओ गठित कर लीज पर भूमि चयन कर गौशाला निर्माण करने को कहा गया। मुख्य शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि क्षतिग्रस्तJ स्कूल भवनों के प्रस्ताव ग्राम सभा एवं ब्लॉक स्तर पर तय कर जिला योजना में प्राथमिकता पर प्रस्तावित करें। खाद्य विभाग को राशन कार्ड के संबंध में कैम्प लगाकर लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिये गये। टीएचडीसी को सैंण गांव में नियमानुसार सुरक्षात्मक कार्य करने के निर्देश दिये गये।
इस मौके पर क्षेत्रवासियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं से अवगत कराया गया। सांेटियाल गांव की महिलाओं द्वारा टीएचडीसी से कृषि भूमि पर घेरबाड़ कर सुरक्षात्मक उपाय किये जाने की मांग, खाली ग्राउण्ड में स्थानीय युवाओं हेतु खेल स्टेडियम बनाने, ग्राम सौड़ का क्षतिग्रस्त प्राथमिक विद्यालय भवन निर्माण, ग्राम भासों में डूब क्षेत्र का मकान प्रतिकर, विद्युत कनेक्शन न लगाये जाने, पयालगांव विस्थापन, चाका से जखोली तक मिनी बस संचालन, कोटेश्वर मार्केेट में दुकान प्रतिकर आदि के संबंध में मा. मंत्री जी द्वारा परीक्षण कर आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश को दिये गये।
वहीं कम्पनियों में काम कर रहे दैनिक भोगी कर्मचारियों को राजकीय अवकाश की छुट्टी का पैंसा, बोनस आदि न दिये जाने की शिकायत की गई, जिस पर मा. मंत्री जी द्वारा श्रम कानून नियमों के तहत आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिये गये। मा. मंत्री जी ने सीडीओ को ग्राम पलाम दन्दली के ग्रामीण महिला समुह को सिलाई मशीन उपकरण देने के निर्देश दिये। ग्राम फफराणा की प्योला देवी का विद्युत कनेक्शन के सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकार ने दूरभाष पर विद्युत विभाग को तत्काल कनेक्शन देने के निर्देश दिये। मा. मंत्री जी द्वारा ग्राम सोन्टियाला के मन्दिर सौन्दर्यीकरण हेतु अपनी विधायक निधि से पांच लाख की धनराशि देने की बात कही गई।
 इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी टिहरी गढ़वाल मनीष कुमार, नगर पंचायत अध्यक्ष गजा मीना खाती, ब्लॉक प्रमुख नरेन्द्रनगर राजेन्द्र भण्डारी, महाप्रबन्धक टीएचडीसी ए.के, विश्नोई, अधीक्षण अभियन्ता पुनर्वास एन.के. गुप्ता, डीएफओ नरेन्द्रनगर अमित रावत, एसडीएम नरेन्द्रनगर देवेन्द्र सिंह नेगी सहित टीएचडीसी, पुनर्वास एवं जिला जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here