CHAR-DHAM_YATRA

एसजीआरआर विश्वविद्यालय में पीएचडी प्रवेश परीक्षा आयोजित
26 विषयों के लिए हुई लिखित परीक्षागुणवत्तायुक्त शोध विवि की प्राथमिकता
देहरादून। श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में मंगलवार को पीएचडी प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई। 26 विषयों के लिए आयोजित रिसर्च एंट्रेंस टेस्ट में कई प्रदेशों के परीक्षार्थियों ने प्रतिभाग किया। विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्रीमहंत देवेंद्रदास जी महाराज ने अपने संदेश में कहा कि विश्वविद्यालय में गुणात्मक रिसर्च को बढ़ावा देना हमारी प्राथमिकता है। शोधकार्य किसी भी विश्वविद्यालय की पहचान होते हैं। हमारी कोशिश है कि श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय अपने शोधकार्यों के लिए देश और दुनिया में जाना जाए।
विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. (डॉ) यू.एस.रावत ने बताया कि विश्वविद्यालय में शोध गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए हर संभव कोशिश हो रही है। हमारी कोशिश है कि विश्वविद्यालय में ऐसे शोध हों जिनसे प्रदेश के साथ-साथ देश और दुनिया को फायदा हो। यह विश्वविद्यालय के गुणवत्तायुक्त शोध का ही नतीजा है कि कई फैकल्टीज के शोध को भारत सरकार की ओर से पेटेंट मिल चुका है और कई इस दिशा में अग्रसर हैं। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय में 41 विषयों में 387 शोधार्थी शोध कर रहे हैं। रिसर्च डीन प्रो. अरूण कुमार ने जानकारी दी कि इस बार 112 उम्मीदवारों ने पीएचडी एंट्रेंस फार्म भरे थे। 87 परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हुए। 9 परीक्षार्थी नेट क्वालिफाई हैं जो परीक्षा से एक्जेंम्टेड हैं जबकि 16 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे। आरईटी लिखित परीक्षा क्वालिफाई करने वाले सफल छात्रों का इंटरव्यू होगा उसके बाद मेरिट लिस्ट के आधार पर ही अंतिम चयन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि परीक्षा के सफल संचालन में रजिस्ट्रार प्रो. दीपक साहनी, परीक्षा नियंत्रक प्रो.संजय पोखरियाल, केंद्राध्यक्ष प्रो. कंचन जोशी, डॉ. राजेश रयाल, उपकेंद्राध्यक्ष डॉ. नवीन गौरव, डॉ. सौरभ गुलेरी, मनीष कुमार, एमपी बिडालिया, विरेंद्र गुसाईं व अभिषेक तिवारी का विशेष सहयोग रहा। विश्वविद्यालय यूजीसी नियमों का पूरी तरह से पालन कर रहा है। परीक्षा के दौरान कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here