एसजीआरआर यूनिवर्सिटी में फार्मा अन्वेषण 2024 उत्सव का आयोजन स्कूल ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज द्वारा राष्ट्रीय फार्मेसी शिक्षा दिवस पर आयोजित किया गया उत्सव

0
21

एसजीआरआर यूनिवर्सिटी में फार्मा अन्वेषण 2024 उत्सव का आयोजन स्कूल ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज द्वारा राष्ट्रीय फार्मेसी शिक्षा दिवस पर आयोजित किया गया उत्सव

श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय में स्कूल ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज द्वारा फार्मा अन्वेषण 2024 उत्सव का आयोजन किया गया

विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने इस अवसर पर आयोजकों को शुभकामनाएं प्रेषित की।
कुलपति प्रो. (डॉ.) यशबीर दीवान और रजिस्ट्रार डॉ. अजय कुमार खंडूMh के मार्गदर्शन में, स्कूल ऑफ फार्मास्यूटिकल साइंसेज ने थीम “समन्वय का लाभ उठाना: राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 के कार्यान्वयन के लिए उद्योग-अकादमिक साझेदारी” के तहत फार्मा अन्वेषण 2024 का सफलतापूर्वक आयोजन किया।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर (डॉ.) यशबीर दीवान न ने स्कूल ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज के छात्रों और शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि इस प्रकार के आयोजन से छात्रों में उत्साह बना रहता है और वह अपने विषय की विशेषज्ञता हासिल कर सकते हैं।

विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ अजय कुमार खंडूरी ने छात्रों को जानकारी देते हुए बताया कि यह उत्सव भारत में फार्मेसी शिक्षा के जनक, प्रोफेसर महादेव लाल श्रॉफ की 122वीं जयंती के अवसर पर फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया, नई दिल्ली द्वारा प्रायोजित किया गया है। राष्ट्रीय फार्मेसी शिक्षा दिवस (6 मार्च 2024) के अवसर पर, आमंत्रित विशिष्ट अतिथि उत्तराखंड सरकार द्वारा फार्मेसी काउंसिल ऑफ इंडिया के नामित केंद्रीय परिषद सदस्य डॉ. शिवानंद पाटिल थे। अन्य आमंत्रित अतिथि इंटास फार्मास्यूटिकल लिमिटेड के वरिष्ठ प्रबंधक और कार्यकारी उत्पादन प्रबंधक और मैनकाइंड फार्मा लिमिटेड के क्यूएमएस प्रमुख रहे। साथ ही फार्मास्यूटिकल उद्योग और शिक्षा जगत से कई प्रतिष्ठित व्यक्तियों ने कार्यक्रम में पहुंचकर छात्रों के सम्मुख अपने विचार साझा किये।

कार्यक्रम में प्रो. दिव्या जुयाल ने फार्मेसी शिक्षा के क्षेत्र में प्रो. एम.एल. श्रॉफ के उल्लेखनीय योगदान पर प्रकाश डाला। प्रोफेसर सुमन विज, निदेशक आईक्यूएसी ने फार्मेसी पाठ्यक्रम में राष्ट्रीय शिक्षा नीति के महत्व पर विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का सफल संचालन डॉ. मनीष मिश्रा, डॉ. आशुतोष बडोला, अजय सिंह बिष्ट, डॉ. सुधाकर कौशिक एवं शफी के टांगरी ने किया।
कार्यक्रम में स्कूल ऑफ़ फार्मास्यूटिकल साइंसेज की डीन प्रोफेसर दिव्या जुयाल, डॉ. सुमन विज डायरेक्टर आईक्यूएसी, डीन रिसर्च डॉ. लोकेश गंभीर, डीन एसबीएएस डॉ अरुण कुमार और डीन एसएमसीएस डॉ. पूजा जैन सहित सभी स्कूलों के डीन एवं छात्र मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here