CHAR-DHAM_YATRA

उत्तराखंड के इस घर पर टूट पड़ा दुखों का पहाड़, कार पर बोल्डर गिरने से नवनिर्वाचित प्रधान की मौत, खुशियां मातम में बदल गई दुःखद

बुधवार सुबह के समय टिहरी जिले में बारिश आफत बनकर बरसी। मूसलाधार बारिश से चार घंटे तक जन जीवन अस्त व्यस्त रहा। घनसाली के सेमली में बारिश का पानी कई घरों में घुस गया। वहीं अगलाड़-थत्यूड़ मोटर मार्ग पर गरखेत के समीप पहाड़ी से गिरे पत्थर के कारण टटोर के नवनिर्वाचित प्रधान की मौत हो गई

शपथ ग्रहण के लिए जा रहे प्रधान की चलती कार के ऊपर बोल्डर गिरने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई, जबकि तीन लोग घायल हो गए। घायलों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नैनबाग में उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। जौनपुर ब्लॉक के ग्राम टटोर के नवनिर्वाचित प्रधान प्रताप सिंह (50) पुत्र पंचू राम कार से बुधवार सुबह थत्यूड़ ब्लॉक कार्यालय जा रहे थे।

कार में गांव के ही चालक अर्जुन सिंह (48) पुत्र गुलाब सिंह और पास ही के गांव के मुनोगाी की पुष्पा देवी (45) पत्नी सुंदर सिंह और उनकी बेटी नीतू (20) भी सवार थे। कार अगलाड़-थत्यूड़ मोटर मार्ग पर गरखेत के समीप पहुंची तभी करीब 9:45 पर अचानक पहाड़ी से चलती कार के ऊपर बोल्डर गिर गया, जिससे कार पूरी तरह पिचक गई।

सूचना पर पुलिस, राजस्व पुलिस और 108 सेवा मौके पर पहुंची। थत्यूड़ थानाध्यक्ष मनीष नेगी ने बताया कि दुर्घटना में टटोर गांव के नवनिर्वाचित प्रधान प्रताप सिंह की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कार में सवार अन्य लोग घायल हो गए थे। घायलों को नैनबाग अस्पताल में मरहम पट्टी के बाद छुट्टी दे दी गई। मृतक का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए मसूरी भेजा जा रहा है। मृतक ग्राम प्रधान अपने पीछे पत्नी, दो बेटियों और एक बेटा का भरापूरा परिवार छोड़ गया

आठ दिन में ही काफूर हो गई खुशियां
प्रताप सिंह आठ दिन पहले ही टटोर गांव के प्रधान निर्वाचित हुए थे। टटोर गांव में प्रधान का पद रिक्त चल रहा था। प्रधान पद पर हुए उप चुनाव में 29 जून को प्रताप सिंह को निर्वाचित घोषित किया गया था। प्रधान बनने के बाद घर परिवार में खुशी का माहौल था। बुधवार सुबह वह हंसी खुशी घर से प्रधान पद की शपथ लेेने के लिए ब्लॉक मुख्यालय के लिए निकले थे। गांव से 25 किमी दूर पहुंचे ही थे कि कार के ऊपर मौत बनकर बोल्डर गिर पड़ा और उनकी मौके पर ही जान चली गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here