CHAR-DHAM_YATRA

राज्य के पहाड़ी जिलों में छोटे उद्योगों को बढ़ाने के लिए CM धामी ने बनाया प्लान.. पहाड़ की आर्थिकी की को मजबूत करने में जुटे धामी


मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि निवेशक हमारे ब्रांड एम्बेसडर हैं। निवेशकों ने उद्योग के क्षेत्र में प्रदेश को नया आयाम दिया है। प्रदेश की आर्थिकी व राजस्व को बढ़ाने में औद्योगिक क्षेत्र से जुड़े लोगों का योगदान अमूल्य है। उन्होंने कहा कि राज्य में निवेश बढ़ाने के लिए सरकार सड़क, रेल और हवाई कनेक्टिविटी बढ़ाने पर फोकस कर रही है। पहाड़ में छोटे उद्योगों को बढ़ाने पर जोर दिया गया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मंगलवार को मुख्य सेवक सदन में आयोजित उत्तराखण्ड निवेशक सम्मान समारोह में राज्य के 68 निवेशकों को सम्मानित किया। इन उद्यमियों ने कोविड काल के दौरान राज्य में उद्योगों की स्थापना की जिससे राज्य में बड़े स्तर पर निवेश के साथ ही रोजगार के अवसर पैदा हुए हैं।

मुख्यमंत्री ने इस दौरान कहा कि सरकार रिफॉर्म-परफॉर्म-ट्रांसफॉर्म के मंत्र के साथ आगे बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि उद्योगों के लिए जैसा वातावरण उत्तराखण्ड में है, यह निवेशकों को राज्य की ओर आकर्षित कर रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनवरी 2020 से अब तक राज्य में 15 हजार करोड़ की परियोजनाओं ने उत्पादन शुरू किया है।

जबकि इन्वेंस्टर्स समिट के बाद अभी तक 35 हजार करोड़ का निवेश धरातल पर उतर चुके हैं। मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश को एक नई पहचान मिल रही है। प्रधानमंत्री मोदी का राज्य से विशेष लगाव है जिसका परिणाम सभी को दिखाई दे रहा है।

उन्होंने कोविड जैसे मुश्किल समय में राज्य के युवाओं की क्षमता, समर्पण, कड़ी मेहनत और विश्वास के लिए उनका आभार जताया। इस अवसर पर आचार्य बालकृष्ण, सचिव उद्योग डॉ पंकज कुमार पांडे, आयुक्त रोहित मीणा, निदेशक उद्योग एस सी नौटियाल आदि मौजूद रहे

पहाड़ में छोटे उद्योगों को बढ़ाना जरूरी
एमएसएमई मंत्री चन्दन राम दास ने कहा कि उत्तराखण्ड की स्थापना जब हुई तो हर किसी की कल्पना थी कि पहाड़ का पानी एवं जवानी पहाड़ के काम ए। यह तभी सम्भव था जब राज्य में उद्योगों को तेजी से बढ़ावा मिले। उन्होंने कहा कि 2018 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में इन्वेस्टर सम्मिट आयोजित हुआ जिसके बहुत सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के पहाड़ी क्षेत्रों में छोटे उद्योगों को बढ़ावा देना बहुत जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here