नॉन स्टॉप धामी : कल देर रात लगभग साढ़े 11 बजे तक सचिवालय में किया कामकाज. ताबड़तोड़ करी कही महत्वपूर्ण विभागों की समीक्षा बैठक और अब से कुछ देर बाद फिर बैठकों का होगा सिलसिला शुरू…

0
191

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी आज राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के सम्मान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए रात्रिभोज में शामिल होंगे। इस दौरान वे मुर्मू को राष्ट्रपति पद पर विजयी होने की शुभकामनाएं भी देंगे। बता दें की आज से ही मुख्यमंत्री का नई दिल्ली प्रवास का कार्यक्रम है। इसके साथ ही 24 जुलाई को प्रधानमंत्री भाजपा शासित मुख्यमंत्रियों के बैठक लेंगे
इस महत्वपूर्ण बैठक में भी मुख्यमंत्री धामी शामिल होंगे। आज सुबह फिर सबसे पहले मुख्यमंत्री राज्य स्तर पर पांच करोड़ से अधिक लागत की परियोजनाओं के अनुश्रवण के लिए बनाए गए कैपिटल डैश बोर्ड और ईएपी डैश बोर्ड की लांचिंग करेंगे। इसके बाद वह ग्राम्य विकास और पलायन आयोग की बैठक करेंगे। इसके बाद उनकी सिंचाई और लघु सिंचाई विभाग की समीक्षा बैठक होगी। फिर दोपहर लगभग 1 बजे के समय वे नई दिल्ली के रवाना हो जाएंगे। वह शाम को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के सम्मान में रखे गए रात्रिभोज में शामिल होंगे
बताया जा रहा है कि इसके बाद उनका दिल्ली में ही प्रवास का कार्यक्रम है। इस दौरान वह केंद्रीय मंत्रियों और केंद्रीय नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं। 24 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नई दिल्ली में सभी भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक लेंगे। इस बैठक में प्रधानमंत्री राज्यों के विकास से जुड़े भावी एजेंडे और केंद्र सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं के बारे में जानकारी लेंगे। प्रधानमंत्री की बैठक को लेकर राज्य सरकार के अधिकारी काफ़ी समय से होमवर्क में जुटे थे वही कल देर रात लगभग साढ़े 11 बजे से भी अधिक समय तक मुख्यमंत्री धामी सचिवालय में ही मौजूद रहे उन्होंने रात का भोजन भी सचिवालय में ही किया इसके साथ ही केंद्र सरकार से जुड़ी विभिन्न विकास योजनाओं के प्रगति रिपोर्ट भी अफसरो ने मुख्यमंत्री कार्यालय को सोपी
ओर कल इससे पहले मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सचिवालय में ताबड़तोड़ महत्वपूर्ण महकमे के अफसरों के साथ लगातार नॉनस्टॉप 5 घंटे तक मैराथन बैठक की और इस बैठक में महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश राज्य के आला अधिकारियों को दिए गए

मुख्यमंत्री धामी  के दिये गए निर्देश पर एक नज़र

मुख्यमंत्री ने दिये जीएसटी कर संग्रह बढ़ाने के निर्देश

राज्य के राजस्व संसाधनों में वृद्धि के लिये किये जाएं समेकित प्रयास

इस संबंध में हिमाचल सहित अन्य पर्वतीय राज्यों द्वारा अपनायी जा रही व्यवस्थाओं का हो अध्ययन.

कर चोरी रोकने के लिये प्रभावी तंत्र विकसित करने पर दिया जाए ध्यान

राज्य सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के लाभाथ्रियों को आधार कार्ड से जोड़ने की की जाए व्यवस्था

जेम (GeM) के माध्यम से किये जाएं गवर्नमेंट प्रोक्योरमेंट

सिंगल विंडो सिस्टम का हो व्यापक प्रचार-प्रसार

लैण्ड बैंक की स्थापना के लिये तैयार की जाए प्रभावी कार्य योजना

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here